15th September 2021

कल्चरल क्वेस्ट की प्रथम ’बैठकी’ – ज्योति किरन


CULTURAL QUEST

 

कल्चरल क्वेस्ट ने की लखनऊ में प्रथम ’बैठकी’ का आयोजन

–  ज्योति किरन

लखनऊ में कल्चरल कवैस्ट ने अपनी पहली बैठकी  का आयोजन किया, जिसमें ग्रेमी अवार्ड कलाकार पं.विश्वमोहन भट्ट ने  भाग लेकर कार्यक्रम को राष्ट्रीय भव्यता प्रदान की। अपनी मोहनवीणा के माघ्यम से उन्होंने और कला की बारीकियों को सामने रखा। अभिषेक मिश्रा  ने उनके साथ तबले पर संगत की।

ग्रेमी अवार्ड कलाकार पं.विश्वमोहन भट्ट

 

पं.विश्वमोहन भट्ट और सुरभि सिंह

इस अवसर पर यशभारती से सम्मानित पं.रामकुमार जी ने एकल तबला वादन किया। अपने वादन में उन्होंने ‘ना धिन् धिन्ना’ की उत्कृष्ट तैयारी एवं नये आयामों को प्रस्तुत किया।

पं.रामकुमार और पं.धर्मनाथ मिश्र 

कार्यक्रम की शुरुआत सुश्री सुरभि सिंह की दो अनुभवी शिष्याओं ईशा रतन और मीशा रतन द्वारा की गई। जिसमें पहली बार ‘रुद्राष्टकम’ को गुरु सुरभि सिंह के निर्देशन में ईशा-मीशा ने उत्कृष्ट रूप से प्रदर्शित किया। पं.धर्मनाथ मिश्र का गायन और विकास मिश्र के  तबला वादन ने  बैठकी में अमिट छाप छोड़ी।

ईशा रतन और मीशा रतन

कल्चरल क्वेस्ट की सचिव सुरभि सिंह का कहना है कि ‘बैठकी’ की परिकल्पना उन्होंने लखनऊ की प्राचीन परम्पराओं को पुनर्जीवित करने के लिये की। बैठकी को सफ़ल बनाने में संस्था के सदस्य तनुज नारायण, पं.विकास मिश्र, रवि गोस्वामी और सहारा बानो ने  अपना विशेष सहयोग दिया।

बैठकी  में शहर के प्रतिष्ठित एवं सम्मानित लोग सम्मिलित हुये। प्रथम बैठकी का आयोजन भारतीय जनता पार्टी के नेता सुधीर हलवासिया के निवास स्थान पर किया गया।

 

बहुमुखी प्रतिभा से संपन्न  ज्योति किरन सामाजिक-सांस्कृतिक-साहित्यिक और सांस्कृतिक गतिविधियों में विगत कई वर्षों से सक्रिय हैं. 

 

error: Content is protected !!